Urinary Tract Infection Treatment | UTIs Infection treatment | पेशाब में जलन का परमानेंट उपचार

Ayurveda
पेशाब में जलन का परमानेंट उपचार
Urinary Tract Infection Treatment | UTIs Infection treatment


ऐसा महसूस होना कि पेशाब पूरी तरह से नहीं हुआ है, गहरे रंग का पेशाब, धुंधले रंग का पेशाब, पेशाब करने की लगातार इच्छा, पेशाब में खून, बदबूदार पेशाब, बार–बार पेशाब आना, और मूत्राशय की ऐंठन, मूत्र तंत्र के किसी भी भाग, किडनी, मूत्राशय या मूत्र मार्ग में होने वाला संक्रमण से आप इन घरेलू उपचार से हमेशा के लिए ठीक कर होने वाले नुकसान से बच सकते हैं ।

एक मूत्र पथ संक्रमण (यूटीआई) {urinary tract infection (UTI)} एक संक्रमण है जो मूत्र प्रणाली (urinary system) के भीतर कहीं भी हो सकता है। यह संक्रमण मुख्य रूप से मूत्राशय और मूत्रमार्ग के भीतर होता है, यही कारण है कि इसे मूत्राशय संक्रमण के रूप में भी जाना जाता है। 

जबकि महिलाएं आमतौर पर यूटीआई (UTI) प्राप्त करने के लिए अधिक संवेदनशील होती हैं, संक्रमण पुरुषों में भी हो सकता है। एक यूटीआई (UTI) को कम जोखिम वाला संक्रमण माना जाता है, हालांकि यह संक्रमण गुर्दे में फैल जाने के बाद बेहद खतरनाक हो सकता है। यही कारण है कि इसे जल्द से जल्द हल किया जाना चाहिए। मूत्र पथ संक्रमण (urinary tract infection) इलाज के लिए काफी ज़रूरी हैं। इस संक्रमण के इलाज के लिए बाजार में विशिष्ट दवाएं उपलब्ध हैं और आप उन्हें अपने घर के आराम में स्वयं को प्रशासित कर सकते हैं। यदि आपके संक्रमण में बार-बार होने की प्रवृत्ति होती है, तो आपका डॉक्टर एक बार और सभी के लिए इसे साफ़ करने में मदद के लिए एक हल्का एंटीबायोटिक (antibiotic) निर्धारित कर सकता है। 

यदि संक्रमण रजोनिवृत्ति (menopause) के बाद होता है, तो डॉक्टर अधिक संक्रमण होने से रोकने के लिए योनि एस्ट्रोजेन थेरेपी (vaginal estrogen therapy) की सिफारिश कर सकता है। यदि आप गंभीर मूत्र पथ संक्रमण (severe urinary tract infection) से पीड़ित हैं, तो आपको अस्पताल में भर्ती होना पड़ सकता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि संक्रमण को तेजी से दूर करने के लिए डॉक्टर आपको अपनी दवाएं इंटरवेनोस्ल्य (intravenously) रूप से देना चाहता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Consuming 2 spoons of ghee on an empty stomach everyday will bring terrible changes in the body
Ayurveda

रोज़ खाली पेट 2 चम्मच घी खाने से शरीर में होंगे भयंकर बदलाव

सुबह उठकर खाली पेट सिर्फ 1 चम्मच देसी घी से आपके शरीर को मिलेंगे ये 6 गजब के फायदे, शरीर रहेगा चुस्त-दुरुस्तहेल्दी रहने के लिए