HIV / AIDS कंट्रोल कर सकेंगे सिर्फ 6 माह में इस नई तकनीक से

Ayurveda

इंफ्यूजन नाम की एक नई तकनीक एड्स को कंट्रोल करने में कारगर है। इसके जरिए एचआईवी जैसी घातक बीमारी को 6-7 महीनों में रोका जा सकता है। HIV/AIDS कंट्रोल कर सकेंगे सिर्फ 6 माह में इस नई तकनीक से

 

एचआईवी से पीड़ित मरीजों को दी जाने वाली दवा डॉल्यूटेग्रेवर (Dolutegravir) को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा नई आधिकारिक सलाह जारी की गई है जिसमें सभी एचआईवी पॉजिटिव मरीजों को पहले और दूसरे स्तर के इलाज के लिए डॉल्यूटेग्रेवर का इस्तेमाल करने के लिए कहा गया है।

इस दवाई को एचआईवी पॉजिटिव प्रेग्नेंट महिला के लिए सेफ बताते हुए उन्हें भी इसे देने का सुझाव दिया गया है। दरअसल, कुछ समय पहले ऐसे दावे किए गए थे कि एचआईवी पॉजिटिव प्रेग्नेंट महिलाओं द्वारा डॉल्यूटेग्रेवर के इस्तेमाल से उनके बच्चे में न्यूरल ट्यूब डिफेक्ट सामने आए।

हालांकि, ब्राजील व अन्य जगहों पर की गई स्टडी के बाद यह दावे गलत साबित हुए हैं, जिसके बाद डब्ल्यूएचओ ने डॉल्यूटेग्रेवर को लेकर प्रेस रिलीज जारी की

इस रिलीज में विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा इस बात पर भी जोर दिया गया कि दवा का चुनाव पूर्ण रूप से मरीज की सहमति पर ही होना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Posts

कैंसर के बाद HIV का इलाज मिला
Ayurveda

कैंसर के बाद HIV का इलाज मिला: रिसर्च में दावा- वैक्सीन की सिर्फ एक डोज से बीमारी खत्म होगी; जानें कैसे करती है काम

कैंसर के बाद अब वैज्ञानिकों ने HIV/AIDS जैसी जानलेवा बीमारी का भी इलाज ढूंढ लिया है। इजराइल की तेल अवीव यूनिवर्सिटी के रिसर्चर्स एक ऐसी

Consuming 2 spoons of ghee on an empty stomach everyday will bring terrible changes in the body
Ayurveda

रोज़ खाली पेट 2 चम्मच घी खाने से शरीर में होंगे भयंकर बदलाव

सुबह उठकर खाली पेट सिर्फ 1 चम्मच देसी घी से आपके शरीर को मिलेंगे ये 6 गजब के फायदे, शरीर रहेगा चुस्त-दुरुस्तहेल्दी रहने के लिए